Tagstree-sansaar

लड़कियाँ कोई मशीन नहीं हैं

स्त्री संसार :: उद्धरण : सिल्विया प्लाथ अनुवाद, चयन एवं प्रस्तुति : प्रिया प्रियदर्शिनी सिल्विया प्लाथ एक अमेरिकी कवि, उपन्यासकार और लघुकथा लेखिका हैं। प्लाथ २० वीं सदी की सबसे आकर्षक लेखिका हैं। वे ‘कनफेशनल पोएट्री’ के आंदोलन में एक प्रमुख व्यक्ति के रूप में सामने आईं और अक्सर एक महत्वपूर्ण स्त्रीवादी लेखिका के रूप में सम्मानित की जाती हैं। ‘द कोलोसस एंड अदर पोएम्स’ और ...

देह कोई वस्तु नहीं है

स्त्री संसार :: उद्धरण : सिमोन द बोउवा अनुवाद, चयन एवं प्रस्तुति : स्मृति चौधरी सिमोन द बोउवा फ्रेंच अस्तित्ववादी दार्शनिक, लेखक, सामाजिक सिद्धान्तकार, और स्त्रीवादी थीं जिन्होंने बीसवीं सदी में स्त्रीवादी आंदोलन को एक नया रूप दिया। उन्होंने आधुनिक स्त्रीवादी आंदोलन की नींव रखी। उनकी किताब ‘द सेकंड सेक्स‘ औरतों को इतिहास में मिले निम्न दर्जे और पितृसत्ता की आलोचना करती है। सिमोन...

समुद्र अपनी नाभी में एक घंटी बांधे हुए है

स्त्री संसार :: कविताएँ : ऐन सेक्सटन अनुवाद, चयन एवं प्रस्तुति : प्रकृति पार्थ अमेरिकी कवयित्री ऐन सेक्सटन का जन्म 9 नवंबर, 1928 में हुआ। वे अमेरिका की प्रसिद्ध कन्फेशनल कवियों में से एक हैं। पूरी उम्र अवसाद से जूझती रही ऐन की कविताओं में उनके निजी जीवन में संघर्ष के वर्णन के साथ साथ एक औरत की बेधड़क पुकार और बिना तोड़े-मोड़े स्वीकारे जाने की इच्छा दिखाई पड़ती है। उनकी कविताएँ स्त्री के विभिन्न...